Home / सुविचार / रिश्ता, दोस्ती और प्रेम
रिश्ता, दोस्ती और प्रेम

रिश्ता, दोस्ती और प्रेम

रिश्ता, दोस्ती और प्रेम –

रिश्ता, दोस्ती और प्रेम उसी के साथ रखना,
जो तुम्हारी हँसी के पीछे का दर्द,
गुस्से के पीछे का प्यार, “और”
मौन के पीछे की वजह समझ सके ।

रिश्ते कमजोर होने की एक वजह

Choti-Choti-Baatein

छोटी छोटी बातें
दिल में रखने से
बड़े-बड़े रिश्ते कमजोर
हो जाते हैं ।



रिश्ता ताजमहल की तरह होता है –

रिश्ता ताजमहल की तरह होता है
रिश्ता ताजमहल की तरह होता है ।
सबको उसकी खूबसूरती तो दिखती है,
पर उसे बनाने में लगी “मेहनत”और “वक़्त”
किसी को नहीं नज़र आता।

रिश्ते तितली जैसे होते हैं –

Rishte titli jaise hote hain

रिश्ते तितली जैसे होते हैं
जोर से पकड़ो तो मर जाते हैं
छोड़ दो तो उड़ जाते हैं
अगर प्यार से पकड़ो तो
अपना रंग छोड़ जाते हैं ।

आईना और परछाई जैसे मित्र

friendship status
मित्र
, आईना और परछाई जैसे हों
क्योंकि आईना झूठ नहीं बोलता
और परछाई साथ नहीं छोड़ती ।

ये भी पढ़े-

दोस्ती से बड़ी इबादत




One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.