सुविचार

हलकी फुल्की सी है ज़िन्दगी

हलकी फुल्की है ज़िन्दगी स्टेटस, अनमोल विचार हिन्दी में, कोट्स, सुविचार, शायरी

हलकी फुल्की सी है ज़िन्दगी
बोझ तो सिर्फ
ख्वाहिशों का है.

जिंदगी हल्की महसूस होगी,
अगर दूसरों से कम उम्मीद और
खुद पर ज्यादा भरोसा हो तो ।

जिसमें जिंदगी बड़ी हल्की लगती थी
फिर से वो स्कूल का भारी बस्ता उठाना है।

ज़िन्दगी.. बस इतना अगर दे दो तो काफी है,
सिर से चादर ना हटे, पाँव भी चादर में रहें ।

सबको गिला है, बहुत कम मिला है ।
ज़रा सोचिए,
आपको जितना कितनों को मिला है ।

हलकी फुल्की है ज़िन्दगी

दो दिन की ज़िंदगी है, क्या करोगे उलझ कर,
रहो तो पलकों की मानिंद, बिखरो तो खुश्बू बनकर ।

दु:ख के दस्तावेज हों या सुख की वसीयत
गौर से देखोगे तो अपने ही दस्तखत होंगे ।

हलकी फुल्की है ज़िन्दगी स्टेटस और पढ़ें – ज़िन्दगी आइसक्रीम की तरह है

जो था, अच्छा था, जो है, बेहतर है
जो मिलेगा, बेहतरीन मिलेगा ।

ये तो ख्वाहिशे हैं जो उमर भर सुलगती हैं,
वरना जिस्म तो दो पल में राख़ हो जाता है ।

जब तक आप पहले अपने आप से
खुश नहीं होते है..!
तब तक कोई भी आपको खुश
नहीं कर सकता ।

न किसी से कोई ईर्ष्या, न किसी से कोई होड़
मेरी अपनी मंजिलें, मेरी अपनी दौड़ ।

चूम लो हर मुश्किल को अपना मान कर, 
क्योंकि ज़िन्दगी कैसी भी है… है तो अपनी ही।

मसला तो सिर्फ एहसासों का है, जनाब,
रिश्ते तो बिना मिले भी सदियां गुजार देते हैं।

उस मुकाम पर आ गई है जिंदगी
जहाँ पसंद तो हैं, कुछ चीजें
पर चाहिए कुछ भी नहीं ।

कुछ ख्वाहिशें हैं, कुछ फरमाइशें हैं
दो दिन की ज़िन्दगी है, कितनी आज़माइशें हैं ।

पा लेने की बैचेनी और खो देने का डर
बस इतना सा ही है, जिंदगी का सफ़र ।

अरमान ही, बरसों तक जला करते हैं, यारों,
इंसान तो बस, इक पल में खाक हो जाता है ।

हलकी फुल्की है ज़िन्दगी स्टेटस और पढ़ें –

जॉर्ज कार्लिन की सलाह – अद्भुत संदेश 

जिंदगी और किताब


Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button