प्रेरणादायक विचार

दर्द में भी जो हँसना चाहो

दर्द में भी जो हँसना चाहो, तो हँस पाओगे;
टूटे फूलों को भी पानी में डालो, तो उनमें भी महक पाओगे;
ज़िंदगी किसी ठहराव में, कहीं रुकती नहीं;
हिम्मत जो करोगे तो मंज़िल खुद-ब-खुद पा जाओगे।

फूलों की तरह महकते रहो
सितारों की तरह चमकते रहो
किस्मत से मिली है ज़िन्दगी
खुद भी हँसो
और औरो को भी हंसाओ।

कोई नहीं देखता आपके आँसू,
किसी को नहीं दिखती आपकी
उदासी,
कोई नहीं समझता आपकी पीड़ा,
पर है न अजीब बात कि
सबको दिखती हैं आपकी गलतियाँ ।

बिना दर्द के आँसू बहाए नहीं जाते
बिना प्यार के रिश्ते निभाए नहीं जाते
ज़िन्दगी में एक बात याद रखना
किसी को रुला के अपने सपने सजाये नहीं जाते ।

वेद’ पढ़ना
आसान हो सकता है
लेकिन
किसी की ‘वेदना ‘को पढ़ना
बहुत कठिन है ।

Tags
Show More
Back to top button
Close