Home / अनमोल वचन / होंठो की मजबूरी
इन होंठो की भी न जाने क्या मजबूरी होती है

होंठो की मजबूरी

इन होंठो की भी
न जाने क्या मजबूरी होती है
वही बात छुपाते हैं,
जो कहना जरुरी होती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.