Home / सुविचार / जब तक आदमी को एहसास होता है
जब तक आदमी को एहसास होता है

जब तक आदमी को एहसास होता है

जब तक आदमी को;
एहसास होता है कि उसके पिता सही थे;
तब उसका एक बेटा होता है;
जो सोचता है उसके पिता गलत हैं ।

जैसे जैसे उम्र गुजरती है
एहसास होने लगता है कि
माँ बाप हर चीज़ के बारे में
सही कहते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.