Home / सुविचार / गलती ज़िन्दगी का एक पेज है
गलती ज़िन्दगी का एक पेज है

गलती ज़िन्दगी का एक पेज है

गलती ज़िन्दगी का एक पेज है
पर रिश्ते ज़िंदगी की किताब है
जरूरत पड़ने पर
गलती का एक पेज फाड़ देना
पर एक पेज के लिए
पूरी किताब मत खो देना ।
जीवन में अधिकतर गलतियाँ
केवल इसलिए होती हैं कि
जहाँ हमें विचारों से काम लेना होता है
वहाँ हम भावुक हो जाते हैं
और जहाँ भावुकता की आवश्यकता है,
वहाँ विचारों से काम लेते हैं ।
हमेशा छोटी छोटी गलतियों से
बचने की कोशिश किया करो,
क्योंकि इन्सान पहाड़ों से नहीं
पत्थरों से ठोकर खाता है ।
कोई आपको धोखा दे
यह उसकी गलती है
वही इंसान फिर धोखा दे
यह आपकी गलती है ।
कोई भी गलती आप ज़िंदगी में
दो बार नहीं कर सकते हैं
क्योंकि यदि आप दोहराते हैं
तो यह गलती नहीं, आपकी इच्छा है ।
गलती स्वीकारने और गुनाह छोड़ने
में कभी देर न करें
क्योंकि सफर जितना लंबा होगा
वापसी उतनी मुश्किल होगी ।
जिस व्यक्ति ने कभी कोई
गलती नहीं की
उसने कभी नया करने की कोशिश ही नहीं की ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

440