Home / प्रेरणादायक विचार / हौंसले बुलंद कर
hausle buland kar

हौंसले बुलंद कर

हौसले बुलंद कर रास्तों पर चल दे;
तुझे तेरा मुक़ाम मिल जायेगा;
बढ़ कर अकेला तू पहल कर;
देख कर तुझको काफिला खुद बन जायेगा।

Hausle Buland Kar
Raston Par Chal De
Tujhe Tera Mukam Mil Jayega
Bad Kar Akela Tu Pahal Kar
Dekh Kar Tujhko Kafila Khud Ban Jayega

एक सपने के टूटकर
चकनाचूर हो जाने के बाद ,
दूसरा सपना देखने के
हौसले को ‘ज़िन्दगी कहते हैं।

तेज हवाओं में
उड़ते हैं जो
उन परिंदों के पर नहीं
हौसले मजबूत होते हैं।

जुनून है जहन में तो हौसले तलाश करो,
बहते हुये पानी की तरह रास्ते तलाश करो,
ये बैचेनी रगों में बहुत जरूरी है,
उठो सफर के नये सिलसिले तलाश करो ।

दुनिया में कोई काम असंभव नहीं;
बस हौसला और मेहनत की जरूरत है…l