प्रेरणादायक विचार

सफलता के मंत्र

सफलता के सूत्र, सफलता के मंत्र, सफलता के अनमोल विचार, सफलता के मूल मंत्र

सफलता का चिराग परिश्रम से जलता है ।

कामयाब लोग अपने फैसले से दुनिया बदल देते है और
नाकामयाब लोग दुनिया के डर से अपने फैसले बदल लेते है ।

लगातार हो रही सफलताओं से निराश नहीं होना चाहिए
क्योंकि कभी कभी गुच्छे की आखिरी चाबी भी ताला खोल देती है ।

सफल व्यक्ति लोगों को सफल होते देखना चाहते है,
जबकि असफल व्यक्ति लोगों को असफल होते देखना चाहते है ।

कामयाब होने के लिए अकेले ही आगे बढ़ना पड़ता है,
लोग तो पीछे तब आते है जब हम कामयाब होने लगते है ।

आप में शुरू करने की हिम्मत है तो,
आप में सफल होने के लिए भी हिम्मत है ।

जीवन में वो ही व्यक्ति असफल होते है,
जो सोचते है पर करते नहीं ।

सफलता का आधार है
सकारात्मक सोच और निरंतर प्रयास ।

मेहनत इतनी खामोशी से करो कि
सफलता शोर मचा दे ।

सफलता के अनमोल विचार

खुशी के लिए काम करोगे तो ख़ुशी नहीं मिलेगी,
लेकिन खुश होकर काम करोगे तो
ख़ुशी और सफलता दोनों ही मिलेगी ।

चाहे हजार बार नाकामयाबी हो,
कड़ी मेहनत और सकारात्मक सोच के साथ लगे रहोगे तो
अवश्य सफलता तुम्हारी है ।

सफलता हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है और
इसे पाने के लिए ही हमारा जन्म हुआ है ।

पसीने की स्याही से जो लिखते है अपने इरादों को,
उनके मुक़द्दर के पन्ने कभी कोरे नहीं हुआ करते ।

सफलता तो आप द्वारा सोचे गए विचार का अंतिम परिणाम है ।

बार बार विफलता मिले तो निराश मत हो,
महान वैज्ञानिक एडीसन सफल होने से पहले 10,000 बार विफल हुये थे ।
प्रत्येक विफलता में लाभों के बीज होते हैं ।

हमेशा लक्ष्य के साथ रहने वाले लोग सफल होते हैं, क्योंकि
उन्हें पता होता है कि वे कहाँ जाना चाहते हैं ।

असफलता केवल यह सिद्ध करती है कि
सफलता का प्रयत्न पूरे मन से नहीं हुआ ।

अगर आप असफल होंगे तो शायद आप निराश ही होगें लेकिन
आप कोशिश ही नहीं करेंगे तो आप गुनहगार होंगे ।

सफलता के सूत्र पर और पोस्ट पढ़ें –

सफल जीवन के सूत्र

सफलता पर महान लोगों के विचार

नजरिया बदलें जीवन बदलें

जो हो गया उसे सोचा नहीं करते

आते हैं हर किसी के दिन बेहतर

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button