अध्यात्म

उसका नाम दुनिया है


Hey Malik! Meri Gumrahiyan Mere Dosh Dekh Kar
Unhe Andekha Kar Dena
Kyonki Main Jis Mahaul Mein Rehta Hoon
Uska Naam Duniya Hai.

हे मालिक ! मेरी गुमराहियाँ,
मेरे दोष देख कर उन्हें अनदेखा कर देना
क्योंकि मैं जिस माहौल में रहता हूँ
उसका नाम दुनिया है।

और पढ़ें : 

मैं हर बार आजमाता हूँ
प्रीत की डोरी टूटने न देना
इतनी कृपा बनाये रखना
राह दे कृष्ण
भगवद गीता, प्रत्येक अध्याय एक वाक्य में
सब तुम्हारा है तुम सबके हो
ईश्वर पर भरोसा रखिए
औकात से बढ़ कर
रब की मेहरबानी
प्रभु को मौन पाते हैं
पलकें झुकें और नमन हो जाये
तलाश न कर मुझे
अगला कदम पहचान सकूं
तू पुकारे और मैं सुन न पाऊँ
तू मिलता सिर्फ उन्ही को है
कोई कहे ये तेरा है 

Tags
Show More
Back to top button
Close