अध्यात्म

तू मिलता सिर्फ उन्ही को है

तुझे चाहने के तुझे पाने के
सबके अपने तरीके हैं
तू मिलता सिर्फ उन्हीं को है
जिसको तुझे पाने के तरीके हैं

Tujhe Chahne Ke Tujhe Pane Ke
Sabke Apne Tarike Hain
Tu Milta Sirf Unhi Ko Hai
Jisko Tujhe Pane Ke Salike Hain.

और पढ़ें : 

मैं हर बार आजमाता हूँ
प्रीत की डोरी टूटने न देना
इतनी कृपा बनाये रखना
राह दे कृष्ण
सब तुम्हारा है तुम सबके हो
उसका नाम दुनिया है
औकात से बढ़ कर
रब की मेहरबानी
प्रभु को मौन पाते हैं
पलकें झुकें और नमन हो जाये
तलाश न कर मुझे
अगला कदम पहचान सकूं
तू पुकारे और मैं सुन न पाऊँ
कोई कहे ये तेरा है 
कोई तो है जो फैसला करता है
प्रभु का दीदार – प्रार्थना

Show More
Back to top button
Close