Home / धर्म और संस्कृति / सब तुम्हारा है तुम सबके हो
sab tumhara hai tum sabke ho

सब तुम्हारा है तुम सबके हो


Mera Tera, Chhota Bada,
Apna Paraya, Man Se Mita Do;
Fir
Sab Tumhara Hai Tum Sabke Ho.

मेरा तेरा छोटा बड़ा
अपना पराया मन से मिटा दो
फिर
सब तुम्हारा है तुम सबके हो।

और पढ़ें : 

मैं हर बार आजमाता हूँ
प्रीत की डोरी टूटने न देना
इतनी कृपा बनाये रखना
राह दे कृष्ण
भगवद गीता, प्रत्येक अध्याय एक वाक्य में
ईश्वर पर भरोसा रखिए
उसका नाम दुनिया है
औकात से बढ़ कर
रब की मेहरबानी
प्रभु को मौन पाते हैं
पलकें झुकें और नमन हो जाये
तलाश न कर मुझे
अगला कदम पहचान सकूं
तू पुकारे और मैं सुन न पाऊँ
तू मिलता सिर्फ उन्ही को है
कोई कहे ये तेरा है 
कोई तो है जो फैसला करता है