Home / सुविचार (page 10)

सुविचार

सच - Sach khud apna wakeel hota hai

सच खुद अपना वकील होता है

झूठ बेवजह दलील देता है; सच, खुद अपना वकील होता है । दिलों को तौलनेवाले, अभी कुछ लोग बाकी हैं. मोहब्बत घोलने वाले, अभी कुछ लोग बाकी हैं. यकीनन झूठ है, बस झूठ है, बस झूठ दुनिया में, मगर सच बोलने वाले, अभी कुछ लोग बाकी हैं । बस ज़रा स्वाद में कड़वा है, नहीं तो सच का कोई जवाब …

Read More »
muskan aur madad

मुस्कान और मदद

“मुस्कान” और “मदद” ये दोनों ऐसे इत्र है जिन्हें जितना अधिक दूसरो पर छिड़केंगे उतना ही अधिक सुगंध आपके अन्दर आयेगी । कौन किसी से क्या लेता है, कौन किसी को क्या देता है; थोड़ा सा हँस लेते हैं, थोड़ा सा हँसा देते हैं, दोस्ती में यही तो होता है, हँसना और हँसाना कोशिश है मेरी, हर कोई खुश रहे, …

Read More »
jhuthe insan se prem aur sachche insan se game

झूठे इन्सान से प्रेम और सच्चे इन्सान से गेम

हो सके तो ज़िंदगी में दो काम कभी मत करना झूठे इंसान से प्रेम और सच्चे इंसान से गेम । विश्वास और प्रेम में एक समानता है दोनों में से कोई ज़बरदस्ती पैदा नहीं किया जा सकता है । दुनिया की सबसे दुर्लभ जोड़ी होती है खुशी और आँसू की दोनों का एक साथ मिलना मुश्किल है लेकिन जब दोनों …

Read More »