अनमोल वचन

खुशी एक ऐसा एहसास है

खुशी एक ऐसा एहसास है जिसकी हर किसी को तलाश है

खुशी एक ऐसा एहसास है
जिसकी हर किसी को तलाश है,
गम एक ऐसा अनुभव है;
जो सबके पास है,
मगर ज़िन्दगी तो वही जीता है;
जिसको खुद पर विश्वास है ।


खुशी के अपने-अपने मायने हैं जनाब;
एक बच्चा गुब्बारा ख़रीद कर खुश था;
तो दूसरा उसे बेच कर ।


खुशी के लिए काम करोगे तो;
खुशी नहीं मिलेगी,
लेकिन खुश होकर काम करोगे,
तो खुशी और सफलता दोनों ही मिलेगी ।


खुशियों का कोई रास्ता नहीं;
खुश रहना ही एक रास्ता है ।


खुशियाँ मिलती नहीं माँगने से;
मंज़िल मिलती नहीं राह पर रुक जाने से;
भरोसा रखना खुद पर और अपने रब पर;
सब कुछ देता है वो सही वक़्त आने पर ।


खुशियाँ उतनी ही अच्छी;
जितनी मुट्ठियों में समा जाएँ;
छलकती, बिखरती खुशियो को;
अक्सर नजर लग जाया करती है ।


यदि;
आप दूसरों में खुशियाँ तलाशते हैं तो;
आप अकेले हो सकते हैं ।
पर;
इन्हें खुद में तलाशेंगे तो;
अकेले रहने पर भी आप खुश रह सकते हैं ।


उदास लम्हों की न कोई याद करना
तूफान में भी वजूद अपना संभाल कर रखना
किसी की ज़िंदगी की खुशी हो तुम
यही सोच कर अपना ख्याल रखना ।

khushi dene wale apne
खुशी देने वाले अपने तो होते ही हैं
पर
गम देने भी अजनबी नहीं होते हैं.

खुशी उनको नहीं मिलती जो अपनी
शर्तों पर ज़िन्दगी जिया करते हैं ।
खुशी उनको मिलती है,
जो दूसरों की खुशी के लिए
अपनी शर्त बदल लिया करते हैं ।

जीवन में सबसे बड़ी
खुशी उस काम को करने में है
जिसे लोग कहते हैं कि
तुम नहीं कर सकते हो ।

छोटी छोटी खुशियाँ ही तो हैं
जो जीने का सहारा बनती है।
ख्वाहिशों का क्या
वो तो पल-पल बदलती हैं ।

खुशी से सब्र मिलता है और
सब्र से खुशी मिलती है
परन्तु फर्क बहुत बड़ा है।
“खुशी” थोड़े समय के लिए सब्र देती है,
और “सब्र” हमेशा के लिए खुशी देता है ।

खुशी एक ऐसा अहसास है पर और पढ़ें-
मुसीबत और ख़ुशी

Tags

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please turn off the Ad Blocker