Home / अनमोल वचन / कदर किरदार की होती है
kadar kirdar ki hoti hai

कदर किरदार की होती है


Kadar Kirdar Ki Hoti Hai
Warna Qad Mein To Saya Bhi
Insan Se Bada Hota Hai.

? लोगों से मिलते वक्त इतना मत झुको, कि उठते वक्त सहारा लेना पड़े।
? ज़ुबान की हिफाज़त, दौलत से ज्यादा मुश्किल है।
? गरीबों का मज़ाक मत उड़ाओ, क्योंकि गरीब होने में वक्त नहीं लगता।
? अगर इबादत नहीं कर सकते, तो गुनाह भी मत करो।
? दुनिया ये नहीं देखती कि तुम पहले क्या थे, बल्कि ये देखती है कि तुम अब क्या हो।
? जहां अपनी बात की कदर ना हो, वहां चुप रहना ही बेहतर है।