Home / अनमोल वचन / हँस कर जीना दस्तूर है ज़िंदगी का

हँस कर जीना दस्तूर है ज़िंदगी का

हँस कर जीना दस्तूर है ज़िंदगी का;
एक यही किस्सा मशहूर है ज़िंदगी का;
बीते हुए पल कभी लौटकर नहीं आते;
बस यही एक कसूर है ज़िंदगी का ।

Hans Kar Jeena Dastoor Hai Zindagi Ka;
Ek Yahi Kissa Mashhoor Hai Zindagi Ka;
Beete Huye Pal Kabhi Laut Ke Nahi Aate’
Yehi Sabse Bada Kasoor Hai.

और पढ़िए –

बाँटो मुस्कराहट इतनी

मुस्कान चेहरे का वास्तविक श्रृंगार

बिखरने दो होंठो पर हँसी

हक़ीक़त जिंदगी की, ठीक से जब जान जाओगे, ख़ुशी में रो पड़ोगे और गमों में मुस्कुराओगे ।

बिंदास मुस्कुराओ क्या ग़म है

हँसो तो मुस्कराती है जिन्दगी