Home / अनमोल वचन / हँसो तो मुस्कराती है जिन्दगी
हँसो तो मुस्कराती है

हँसो तो मुस्कराती है जिन्दगी

हँसो तो मुस्कराती है जिन्दगी,
रोने पे आँसू बहाती है जिन्दगी,
प्यार दो तो सँवर जाती है जिन्दगी,
हाथ बढ़ाओ तो पास आती है जिन्दगी,
जिस नजर से देखो वैसी नजर आती है जिन्दगी,
नजरिया बदलो तो बदल जाती है जिन्दगी।


खिलखिलाहट ही खुशी जाहिर करे,
ये जरूरी तो नही,
मुकम्मल मुस्कुराहट भी;
हर खुशी बयान करती है ।



अपनी ख़ुशी किसे नहीं होती प्यारी
अकेले मुस्कुराए तो क्या मुस्कुराए
जिंदगी मेरी जिंदगी कहलाएगी तब
हँसी जब मै दूसरों के लबों पे ला सकूँ ।

एक मुस्कराहट का सही अर्थ
बस’ एक बच्चा ‘बता सकता है ।
बड़े लोगों की मुस्कराहट में
काफ़ी अर्थ हुआ करते हैं।
अनुकूलता में हर कोई मुस्कुरा लेता है,
पर जो प्रतिकूलता में भी मुस्कुराना
सीख जाता है वह
धरती का सबसे सुखी इंसान बन जाता है।

मुस्कुराना
हर किसी के बस का नहीं है,
मुस्करा वो ही सकता
जो दिल का अमीर हो ।
मस्त रहो मुस्कुराते रहो;
सबके दिलों में जगह बनाते रहो।


ज़िंदगी से जो लम्हा मिले,
उसे चुरा लो;
ज़िंदगी प्यार से अपनी सजा लो ।
ज़िंदगी यूँ ही गुजर जाएगी;
बस कभी खुद हँसो तो
कभी रोते हुए को हँसा लो ।


जिंदगी बहुत छोटी है;
जो हमसे अच्छा व्यवहार करते हैं;
उन्हें “धन्यवाद” कहो;
और;
जो हमसे अच्छा
व्यवहार नहीं करते,
उन्हें “मुस्कुराकर” माफ़ कर दो ।
मुश्किल में आना,
Part of life है;
और उससे हँसकर बाहर आना;
Art of life है ।





सपने जो अच्छे सुनहले हों उन्हें दिल से लगा लीजिये;
बुरे स्वप्न को एक स्वपन ही समझ भुला दीजिये;
जिनका ख्याल आये उन्हें अपने दिल में बसा लीजिये;
सवाल जो भी हों उन्हें जल्द से जल्द सुलझा लीजिये;
ख्याल जो गुदगुदा जाये तो दिल खोल ठहाके लगा लीजिये;
समय कही रेत मुठ्ठी में सा फिसल ना जाये;
समय पर ही सब कार्य निपटा लीजिये ।



और पढ़िए –

बाँटो मुस्कराहट इतनी

मुस्कान चेहरे का वास्तविक श्रृंगार

बिखरने दो होंठो पर हँसी

हक़ीक़त जिंदगी की, ठीक से जब जान जाओगे, ख़ुशी में रो पड़ोगे और गमों में मुस्कुराओगे ।

बिंदास मुस्कुराओ क्या ग़म है

हँस कर जीना दस्तूर है ज़िंदगी का

मुस्कुराना ज़िंदगी है

कुछ हँस के बोल दिया करो

कल किसने देखा है

ज़िंदगी मिली है जीने के लिए

हँसता हुआ चेहरा

हँसते हुए लोगों की संगत