अनमोल वचन

हँसो तो मुस्कुराती है जिन्दगी

हँसी पर सुविचार, अनमोल वचन

प्रसन्नता
आपका अनमोल खजाना है
उसे छोटी-छोटी बातों पर
लुटने मत दीजिए ।

हँसी के बिना
बिताया गया हुआ दिन
बर्बाद किया हुआ दिन है ।

इस संसार में सबसे बढ़िया दवा – हँसी,
सबसे बड़ी सम्पत्ति – बुद्धि, सबसे अच्छा हथियार – धैर्य
और सबसे अच्छी सुरक्षा – विश्वास और
आनंद की बात यह है कि, ये सब निशुल्क हैं ।

हँसी पर शायरी Shayari, Status – हँसो तो मुस्कराती है जिन्दगी

हँसो तो मुस्कराती है जिन्दगी,
रोने पे आँसू बहाती है जिन्दगी,
प्यार दो तो सँवर जाती है जिन्दगी,
हाथ बढ़ाओ तो पास आती है जिन्दगी,
जिस नजर से देखो वैसी नजर आती है जिन्दगी,
नजरिया बदलो तो बदल जाती है जिन्दगी।

हँसी पर शायरी

ज़िंदगी से जो लम्हा मिले,
उसे चुरा लो;
ज़िंदगी प्यार से अपनी सजा लो ।
ज़िंदगी यूँ ही गुजर जाएगी;
बस कभी खुद हँसो तो;
कभी रोते हुए को हँसा लो ।

हँसी पर सुविचार

हँसते हुये लोगों की संगत
इत्र की दुकान जैसी होती है
कुछ न खरीदो
रूह तो महका ही देती है ।

हँसी पर शायरी

हँस कर जीना दस्तूर है ज़िंदगी का;
एक यही किस्सा मशहूर है ज़िंदगी का;
बीते हुए पल कभी लौटकर नहीं आते;
बस यही एक कसूर है ज़िंदगी का ।

हँसी पर सुविचार

हँसता हुआ चेहरा
आपकी शान बढ़ाता है.
मगर हँसकर किया हुआ कार्य
आपकी पहचान बढ़ाता है ।

माना कि जिंदगी की राहें आसान नहीं है,
मगर मुस्कुरा कर चलने में कोई नुकसान नहीं है ।

मुस्कुराहट शायरी

बिखरने दो होंठों पर
हँसी की फुहारों को
प्यार से बात कर लेने से
कोई दौलत कम नहीं होती ।

हँसी पर सुविचार – मुस्कुरा के जियो

हँसी पर अनमोल वचन

छोटी सी ज़िन्दगी है हँस के जियो
भुला के गम सारे दिल से जियो
उदासी में क्या रखा है
मुस्कुरा के जियो
अपने लिए न सही
अपनों के लिए जियो।

दर्द कैसा भी हो, आँख नम न करो
रात काली सही, गम न करो
इक सितारा बनो जगमगाते रहो
जिंदगी में सदा मुस्कुराते रहो ।

किसी के साथ हँसते-हँसते
उतने ही हक से रूठना भी आना चाहिए !
अपनों की आँख का पानी धीरे से
पोंछना आना चाहिए ।
रिश्तेदारी और दोस्ती में
कैसा मान-अपमान ?
बस अपनों के दिल में रहना आना चाहिए ।

हँसी पर सुविचार – मुस्कराहट से दुनिया बदलिए

अपनी मुस्कराहट से दुनिया बदलिए,
दुनिया से अपनी मुस्कराहट मत बदलिए।

किसी की मजबूरियों पर मत हँसिए;
कोई मजबूरियाँ ख़रीद कर नहीं लाता ।
डरिये वक़्त की मार से;
बुरा वक़्त किसी को बताकर नही आता ।

मुस्कुराहट इसलिए नहीं कि
खुशियाँ ज़िंदगी में ज़्यादा हैं,
इसलिए हैं कि ज़िन्दगी से न हारने का वादा है।

जिनके होंठों पर हँसी
पाँव में छाले होंगे
वही लोग अपनी मंजिल को
पाने वाले होंगे ।

हँसी पर सुविचार

अपनी ख़ुशी किसे नहीं होती प्यारी
अकेले मुस्कुराए तो क्या मुस्कुराए
जिंदगी मेरी जिंदगी कहलाएगी तब
हँसी जब मै दूसरों के लबों पे ला सकूँ ।

हँसी पर सुविचार

वो जो मुझे हँसते हुए देख कर
खुश समझते हैं ,
वो अभी मुझे समझे नहीं।

कहीं भी रहिए, मुस्कुराते रहिए
गम का जश्न मनाते रहिए
जीने की हिम्मत कभी मत हारिए
तन्हा हों तो कोई गीत गुनगुनाते रहिए ।

मैंने आज तक किसी को भी
हंसी की वजह से मरते हुए नहीं देखा है,
जबकि मैं ऐसे लाखों लोगों को जानता हूँ जो
अपने जीवन में नहीं हंसने की वजह से मर रहे हैं ।

जो व्यक्ति किसी दूसरे के चेहरे पर हँसी और
जीवन में ख़ुशी लाने की क्षमता रखता है
ईश्वर उसके चेहरे से कभी हँसी और
जीवन से ख़ुशी कम नहीं होने देता।

हँसी पर कविता Poetry – कुछ हँस के बोल दिया करो

कुछ हँस के बोल दिया करो;
कुछ हँस के टाल दिया करो;
यूँ तो परेशानियाँ तुमको भी, मुझको भी;
मगर कुछ फैसले वक्त पे डाल दिया करो,
न जाने कल कोई हँसाने वाला मिले न मिले;
इसलिये आज ही हसरत निकाल लिया करो ।

सपने जो अच्छे सुनहले हों उन्हें दिल से लगा लीजिये;
बुरे स्वप्न को एक स्वपन ही समझ भुला दीजिये;
जिनका ख्याल आये उन्हें अपने दिल में बसा लीजिये;
सवाल जो भी हों उन्हें जल्द से जल्द सुलझा लीजिये;
ख्याल जो गुदगुदा जाये तो दिल खोल ठहाके लगा लीजिये;
समय कही रेत मुठ्ठी में सा फिसल ना जाये;
समय पर ही सब कार्य निपटा लीजिये ।

हँसी पर अनमोल वचन – हँसना और हँसाना कोशिश है मेरी

हँसना और हँसाना
कोशिश है मेरी,
हर कोई खुश रहे,
यह चाहत है मेरी ,
भले ही मुझे कोई याद करे
या न करे,
लेकिन हर अपने को याद
करना आदत है मेरी ।

टेंशन से चेहरे पर
पिंपल,
और
चिंता से चेहरे पर
रिंकल आते हैं।
इसलिए मुस्कराइए क्योंकि
मुस्कुराने से चेहरे पर
डिम्पल आते हैं।

कौन किसी से क्या लेता है,
कौन किसी को क्या देता है;
थोड़ा सा हँस लेते हैं,
थोड़ा सा हँसा देते हैं,
दोस्ती में यही तो होता है ।

हास्य आस्था का आरम्भ है और हंसी प्रार्थना की शुरुआत है

गुलाब खिलते रहे जिंदगी की राह में,
हँसी चमकती रहे आपकी निगाह में,
खुशी की लहर मिलें हर कदम पर आपको,
देता है ये दिल दुआ बार–बार आपको ।

हँसी पर सुविचार और पढ़िए –

मुस्कान चेहरे का वास्तविक श्रृंगार

बिंदास मुस्कुराओ क्या ग़म है

हक़ीक़त जिंदगी की

थोड़ी सी अस्त-व्यस्त है ज़िन्दगी

भरोसा अगर खुद पर है

एहसास बदल जाते हैं

शिष्टाचार कहता है

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button